एक लड़की छाता ठीक करवाने गयी।
दुकानदार: ऊपर का कपड़ा उतारना पड़ेगा और नीचे डण्डा डालना पड़ेगा।
लड़की: जो मर्ज़ी करो बस पानी अंदर नहीं गिरना चाहिए।

           

लड़की रिक्शा वाले से: अंदर तक जायेगा ना।
रिक्शा वाला: जी बिलकुल जायेगा, आपके लिए ही तो खड़ा किया है।
लड़की: ठीक है, तो घुमा के पीछे ले लो।

           

एक भक्त निर्मल बाबा से: बाबा हर साल बच्चा पैदा हो जाता है, क्या करूँ?
निर्मल बाबा: कंडोम इस्तेमाल करते हो?
भक्त: हाँ करता हूँ।
निर्मल बाबा: कंडोम मोहल्ले में बाँट दो, कृपा वहीं से आ रही है।

           

सुहागरात को पत्नी: पीछे नहीं आगे डालते हैं।
पठान: तुम्हें कैसे पता?
पत्नी: मेरा एक दोस्त था, उसने आगे डाला था।
पठान: चुप रहो, मेरे दोस्त ने मेरे पीछे डाला था।

           

बेटा अपने पिता से: पापा, मैं आपके हनीमून पर कहाँ था?
पापा: जाते वक़्त मेरे पास और आते वक़्त मम्मी के पास।